बार बार पेशाब आना घरेलू उपाय bar bar urine aana treatment in hindi

हमारी human body प्रकृति एक अनोखा निर्माण माना जाता है। यह कहा जाता है कि human body यानी मनाव शरीर पंच महा भूतों से मिलकर बना होता है।

हमारे सामान्य से दिखने वाले मानव शरीर में कई तरह की systems मौजूद होते हैं जैसे कि digestive system, respiratory system, urinary system . इन सभी systems के द्वारा हमारा शरीर काम करता है।

एक सामान्य से मानव शरीर मैं कई तरह के organs मौजूद होते हैं जिनका अलग-अलग काम होता है।

हर organ अपने आप में बहुत ही जरूरी होता है body के proper functioning के लिए। अगर body का एक भी part सही से काम करना बंद कर दे तो कई तरह की problems हो सकती है आज हम ऐसे ही problem के बारे में बात करेंगे।

आज का हमारा article है frequent urination के ऊपर यानी कि बार-बार पेशाब आने की परेशानी पर। तो चलिए शुरू करते हैं।

या तो हम सभी जानते हैं कि urine यानी पेशाब से जुड़ी हुई बीमारियां और problems हमारी kidney के द्वारा उत्पन्न होती हैं। क्योंकि मानव शरीर की kidney हमारे blood में से unwanted substance और गंदगी को filter करके urine produce करती है जिससे urine के through में गंदगी हमारे शरीर से बाहर निकल जाती है।

Kidney के द्वारा produce हुआ urine ,urinary bladder में collect होता है और urethra के through बाहर आता है।

Urine formation और urine discharge कि इस process को हम urination कहते हैं।

कई लोगों को frequent urination यानी बार-बार पेशाब आने की problem होती है तो आज के इस article में हम आपको उसी के बारे में बताएंगे कि आप कैसे frequent urination की परेशानी को ठीक कर सकते हैं या उसका इलाज कर सकते हैं।

bar bar peshab aane ka ramban ilaj

तो अब आपको बताते हैं बार-बार peshab आने का रामबाण इलाज क्या होता है? क्या करने से बार-बार पेशाब आने को रोका जा सकता है?

यह है बार-बार पेशाब आने को रोकने का ramban ilaj
बार-बार पेशाब आने कई सारे कारण हो सकते हैं। पर इस ramban ilaj को करने से आपकी यह problem दूर हो सकती है।

यह उपाय methi के दानों से किया जाता है। आपको तीन से चार चम्मच methi के दाने लेने हैं और उन्हें पीसकर उनका powder तैयार कर लेना है फिर रोज हल्के गर्म पानी के साथ आधा चम्मच powder ले।
इससे आपको कुछ ही dinn में asar दिखना शुरू हो जाएगा। और आप बार-बार peshab आने की problem से मुक्त हो जाएंगे।

bar bar urine aana treatment in hindi
बार बार पेशाब आना इलाज baar baar peshab aana

आजकल medical science के पास हर बीमारी हर परेशानी का ilaaj मौजूद है। Technology or science इतनी advanced हो चुकी है कि हर बीमारी का इलाज मुमकिन है।

अब आपको बताते हैं बार-बार urine आने का क्या treatment है? Frequent urination को कैसे treat किया जा सकता है?

अगर आप medically frequent urination की problem का इलाज करवाना चाहते हैं तो इसके लिए सबसे पहले यह देखा जाता है कि यह problem आपको किस वजह से हो रही है।

Frequent urination की परेशानी कई वजह से हो सकती है जैसे कि diabetes
कई लोगों को blood में sugar level बढ़ जाने से भी बार बार urine यानी पेशाब आने की परेशानी होती है तो इसके लिए urinary bladder की behavioural therapies के द्वारा उसका treatment किया जाता है।

बार बार urine क्यों आता है? बार-बार urine आने से क्या होता है?

bar bar urine aana बार बार urine आना पेशाब आना हमारे body में कई तरह की problems का संकेत देता है।
Frequent urination की problem कोई बड़ी bimari होने का कारण भी बन सकती है।

अगर आपको भी urine discharge बहुत ज्यादा होता है या बार बार peshabआता है तो आप doctor से consult करें और इसका treatment करवाएं ताकि किसी बड़ी preshani का कारण ना बने।

bar bar peshab aane ka ilaj . बार बार पेशाब आने से छुटकारा। Home remedies for frequent urination

बार-बार peshab आने को रोकने के लिए क्या उपाय हैं? क्या करके बार-बार पेशाब आने को रोका जा सकता है?

हर bimari या परेशानी को लेकर घरेलू उपाय तो होते ही हैं। कई लोग side effects के डर से दवाइयां लेना पसंद नहीं करते इसीलिए वह लोग घरेलू उपचार या gharelu उपाय ही अपनाते हैं।

अब आपको बताते हैं ऐसे ही कुछ gharelu upaye बार-बार पेशाब आने के ilaaj के लिए।

1 . सुबह शाम til के लड्डुओं का सेवन करें। Til के लड्डू खाने से भी ज्यादा peshab बनने की परेशानी में निजात मिलती है।

2 . अपने daily मील में दही को शामिल करें। दही में good bacteria present होते हैं जो frequent urination की problem को दूर करने में मदद करते हैं।

3 . गाजर का juice बार-बार पेशाब आने को रोकने में बहुत effective माना जाता है। दिन में दो बार गाजर के juice का सेवन करें।

4 . अगर आपको रात के समय बार-बार peshab आता है तो आप सेब खाएं।

5 . Methi का साग खाने से भी बार-बार peshab आने की problem से मुक्ति मिलती है।

6 . मसूर की दाल,मसूर की दाल के सेवन से भी बार-बार पेशाब आने की परेशानी में असर देखा जा सकता है।

7 . एक सबसे अहम चीज यह है कि रात को सोने से पहले किसी भी तरल चीज का सेवन ना करें । जैसे कि कई लोगों की आदत होती है raat को सोने से पहले doodh पीने की तो हो सके तो वह avoid करें।

बार बार टॉयलेट आने का कारण bar bar peshab aane ke karan

अब आपको बताते हैं बार-बार peshab आने के क्या कारण होते? किन कारणों से बार-बार peshabआता है?

यह है कुछ कारण जिनकी वजह से ज्यादा urine बनता है और बार-बार पेशाब आता है।

  • 1.अगर किसी इंसान को diabities की problem होती है तो फिर उसकी body ज्यादा urine secrete करने लग जाती है। तो यह भी एक अहम कारण होता है ज्यादा urine discharge होने का।
  • बार-बार peshab आने का कारण हो सकता है urinary bladder में infection ,अगर urinary bladder में infection होता है तो ज्यादा देर तक urine store नहीं हो पाता जिसकी वजह से बार-बार peshab आने की problem होती है।
  • 3.अगर हमारे body में प्रोटेस्ट ग्रंथि बढ़ने लगती है तो भी बार बार peshabआने की problem देखी जा सकती है।
  • 4.कई बार है heavy dose की दवाइयां लेने की वजह से हमारी kidney पर इसका असर पड़ता है। और kidney से related infection की वजह से भी बार-बार urination की परेशानी हो सकती है।
  • गर्भावस्था के समय भी frequent urination की problem होती है। Uterus बिल्कुल urinary bladder के ऊपर ही स्थित होता है जिसकी वजह से बार-बार peshab आता है।

पेशाब खुलकर न आना। पेशाब रुकने के कारण।

Peshab खुलकर क्यों नहीं आता? पेशाब खुलकर ना आने के क्या कारण होते हैं?

पेशाब खुलकर ना आने के या कम peshab बनने के कई सारे कारण हो सकते हैं। खुलकर पेशाब ना आने के कुछ main कारण है यह-

1 . सबसे पहला और सबसे main कारण हो सकता है urinary tract infection , हमारे शरीर से urinary tract के द्वारा ही urine discharge होता है।

2 . urinary tract मैं मौजूद जो हमारी मांसपेशियां होती हैं यानी कि muscles उनमें खिंचाव के कारण भी peshab खुलकर नहीं आता है।

3 . kidney या urinary bladder में पथरी होने के कारण भी peshab रुक रुक कर आने खुल कर ना आने की problem हो सकती है।

4 . कई दवाइयों की वजह से kidney पर असर पड़ता है जिसके कारण kidney खराब हो जाती है। Kidney खराब होने की वजह से भी peshab मैं तकलीफ हो सकती है।

5 . ज्यादा nasha करने की वजह से भी कम peshab आने या रुक रुक कर पेशाब आने की problem हो सकती है।

पेशाब ज्यादा आना

ज्यादा peshab आने या ज़्यादा पेशाब बनने की कई सारे reasons हो सकते हैं। जैसे कि हमने आपको ऊपर बताया ज्यादा urine secrete होने का कारण kidney या urinary bladder से संबंधित problems भी हो सकती हैं।

इनके अलावा diabities में जब blood में sugar level बढ़ जाता है तो body में ज्यादा urine formation होने लगती है तो यह कारण भी ज्यादा peshab आने का ज्यादा पेशाब बनने का होता है।

होम्योपैथिक उपचार पेशाब बार बार आना

अब आपको बताते हैं बार-बार पेशाब आने के लिए homeopathic upchar क्या है? होम्योपैथिक upchar से बार बार peshab आना रोका जा सकता है? यह है कुछ homeopathic उपचार जिनसे बार-बार पेशाब आने को रोका जा सकता है।

1 . दो चम्मच अदरक के रस का सुबह-शाम सेवन करें।

2 . आंवला के सेवन से भी बार-बार पेशाब आने को रोका जा सकता है क्योंकि आंवला में antioxidants होते हैं।

3 . Cranberry के सेवन से भी बार-बार पेशाब आने को रोका जा सकता है। Cranberry में pronthosynidine नमक antioxidant मौजूद होता है।

4 . दालचीनी का सेवन powder के रूप में करने से भी बार-बार peshab आने की problem से निजात मिल सकती है। दालचीनी के सेवन से हमारी kidney स्वस्थ रहती है।

5.अनार का सेवन करना चाहिए। अनार के सेवन से भी बार-बार पेशाब आने की problem को दूर किया जा सकता है क्योंकि अनार में vitamin C और antioxidants मौजूद होते है।

Peshab Rog की दवा कौन सी होती है?

पेशाब रोग की दवा pesab rog treatment . किस दवा के इस्तेमाल से peshab रोग को ठीक किया जा सकता है? यह है peshab रोग को ठीक करने के लिए दवाइयां-

1.Oxybutynin

2.Tolterodine

3.Darifenacin

4.Solifenacin

5.Trospium

6.Fesoterodine

यह था हमारा आज का article पेशाब से जुड़ी हुई problems और उनके ilaaj के बारे में। आशा करते हैं आप के लिए useful होगा।

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments