अमेरिकी ब्लैक बियर और ब्राउन बीयर के बारे में अजीब जानकारी

1 – भालू परिवार के दूसरे सबसे बड़े सदस्य होते हैं । ब्राउन बीयर । इस बात में कोई शक नहीं होता कि यह स्तनधारी जीव भालू ही है । यह एक बहुत बड़ा ग्रुप है इसमें लगभग 10 प्रजातियां रहती है और यह सब यूरोप , उत्तरी , अमेरिका , एशिया और मध्य पूर्व में रहते हैं ।

2 – अपने नाम के अनुसार इन भालू का रंग अलग अलग होता है और वह हल्के पीले से गहरे भूरे रंग तक होते हैं । ब्राउन बियर की सबसे जानी-मानी प्रजाति है क्विजली जो कि उत्तरी अमेरिका में पाई जाती है ।

3 – इन्हें यह नाम अपनी खाल पर मौजूद चमकीले टिप्स की वजह से मिला है । जिनकी वजह से इनकी खाल सलेटी लगती है । यह अपने कंधे पर मौजूद कुबड़ की वजह से सबसे अलग नजर आते हैं ।

4 – अमेरिकी ब्लैक बियर भले ही अपने इस नाम से जुड़े सबसे छोटे भालू हो । पूरे परिवार में इनकी ही आबादी सबसे ज्यादा है और यह कनाडा से मेक्सिको तक हर जगह पाए जाते हैं । वह ब्लैक बियर 2 मीटर तक लंबे हो सकते हैं । ब्राउन बियर की तुलना में इनके कान ज्यादा बड़े होते हैं । कंधे की कुबड़ थोड़ी छोटी होती है ।

5 – इनके खाल के रंग के हिसाब से इनका नाम भ्रम पैदा करता है । उत्तरी अमेरिका के किसी भी दूसरे स्तनधारी जीव के मुकाबले इनकी खाल के रंग में सबसे ज्यादा विविधता होती है ।पूर्व में रहने वाले ब्लैक बीयर की खाल ज्यादा काली होती है । जबकि इसके पश्चिम में रहने वाले रिश्तेदारों की खाल काफी हल्के रंग की होती है ।

6 – कनाडा में ब्रिटिश कोलंबिया के टापू पर रहने वाले कंबोडि भालू इसकी एक बड़ी मिसाल है । दूसरे ब्लैक बियर की तरह इनके नाक और पंजे काले होते हैं ।एशिया के ब्लैक बियर अपने अमेरिकी रिश्तेदारों के मुकाबले ज्यादा आसानी से पहचान में आते हैं । क्योंकि इसके सीने पर एक चटक निशान होता है । कई बार इन्हें मून बियर भी कहते हैं । यह स्तनधारी जीव पहाड़ी जंगलों में पाए जाते हैं ।

7 – स्तनधारी जीव भारत के अलावा श्रीलंका और नेपाल में भी पाए जाते हैं । भालू की एक प्रजाति सिर्फ दक्षिणी अमेरिका में ही पाई जाती है । इन भालू कोयह नाम इनके आंखों के चारों और सफेद फर के कारण मिला है ‌। सफेद और काली खाल की वजह से जायंट पांडा को पहचानना कोई मुश्किल काम नहीं है

ब्लैक बियर के बारे में रोचक तथ्य

1 – लेकिन चीन में पाई जाने वाली यह प्रजाति आज लुप्त होने की कगार पर है । बड़ा गोल सिर और गोल मटोल सिर इन प्यारे भालू की सबसे बड़ी पहचान है ।

2 – इनकी ऊंचाई 70 सेंटीमीटर तक हो सकती है । अब वह कम ही वाइल्ड पांडा बचे हैं । उनमें से ज्यादातर सेंचुरी या फिर चिड़ियाघर में रहते हैं । क्योंकि इन सुरक्षित जगहों पर उनकी जान बची रह सकती है ।

3 – बालू परिवार का आठवां सदस्य है सन बियर । इस परिवार का सबसे छोटा सदस्य है जो कि कुत्ते के कद का होता है । इनके रिश्तेदारों की तरह इनके सीने पर भी एक चीन्ह होता है जो कि सूरज के जैसा नजर आता है । करीब 65 किलो के यह हल्के भालू पेड़ों पर रहते हैं ।

4 – भालू जैसा ही एक और जीव होता है क्वाला भालू । इसे भी ऊंचाई पर बैठना बहुत पसंद होता है । मूल रूप से ऑस्ट्रेलिया में पाए जाने वाले इन जीवो को क्वाला भालू कहते हैं । लेकिन यह सिर्फ एक नाम है । क्योंकि यह भालू नहीं होते हैं । यह असल में मारसुपियश होते हैं ।

5 – रेड पांडा भी भालू परिवार के नहीं होते हैं । इसे एक अलग ग्रुप का मानते हैं । हरे भरे जगहों से लेकर आर्टिक पर जमी बर्फ तक भालू ने तरह-तरह की जगहों पर रहना सीख लिया है । भालू बड़े ही समझदार जीव होते हैं ।

6 – अपने भारी-भरकम शरिर की वजह से ही यह दुनिया के अलग अलग माहौल में रहने के लिए तैयार हो चुके हैं । सबसे बड़ी बात तो यह है कि भालू खुद को अपने आप को माहौल के मुताबिक ढाल लेता है और वह अपने रोजमर्रा की जिंदगी में एक खास हुनर का इस्तेमाल करता है ।

7 – उनकी एक सबसे बड़ी खूबी तो है उनका फर । उनकी इसे दोहरी परत वाली खाल के कई काम आते हैं । जिसमें सबसे पहला है भालू को गर्म रखना । भालू को उनकी त्वचा के नीचे एक मोटी परत होती है । वह भी इन्हें इंसुलेटेड रखती है और पोलर बियर में यह परत 10 गुना मोटी होती है ।

8 – दिखने में तो इनकी खाल सफेद या क्रीम कलर की नजर आती है । लेकिन इनकी खाल का हर रेशा ट्रांसपेरेंट होता है । जिसकी वजह से धुप उनको पार करके उनकी काली त्वचा तक पहुंच जाती है। बर्फीले इलाकों में यह अपने भारी-भरकम हर की वजह से इन इलाकों में छिप जाते हैं और अचानक ही अपने शिकार पर हमला कर देते हैं ।