Clean-kit tablet का उपयोग, नुकसान, कीमत पूरी जानकारी , Clean kit tablet use in hindi.

Clean-kit tablet का उपयोग, नुकसान, कीमत पूरी जानकारी , Clean kit tablet use in hindi.

क्लीन किट क्या काम आती है? , क्लीन किट कैसे लिया जाता है? , क्लीन किट टैबलेट कैसे यूज़ करें, Clean kit को उपयोग करने की विधि , Clean-Kit Tablet कैसे काम करती है , Clean-Kit टैबलेट के लाभ , गर्भपात की गोली खाने के बाद क्या क्या होगा , Clean kit tablet के इस्तेमाल की सावधानियां , Clean-Kit Tablet के साइड इफेक्ट्स , क्लीन किट दवा खाने के बाद ब्लीडिंग नहीं हो तो क्या करें ? , गर्भपात की गोली क्लीन किट कब और कैसे लें ? , क्लीन किट टेबलेट खाने के कितने दिन बाद तक ब्लीडिंग चलेगी ? , क्लीन किट टेबलेट से कितने दिनों की प्रेगनेंसी को गिराया जा सकता है ?

क्लीन किट टेबलेट एक गर्भनिरोधक दवा है। यह दो प्रकार की दवाइयों के मिश्रण से बनी होती है और क्लीन किट टेबलेट के सेवन से महिलाओं के शरीर में स्थित प्रोजेस्टेरोन हार्मोन का लेवल कम हो जाता है जिसकी वजह से प्रेगनेंसी ठहर नहीं पाती और गर्भपात हो जाता है ।

‎क्लीन किट टैबलेट क्या है? Clean kit tablet kya hai

क्लीन किट टैबलेट गर्भ निरोधक दवा है । जिससे अनचाहे गर्भ से छुटकारा पाया जा सकता है तथा बच्चों में अंतर किया जा सकता है । क्लीन किट टेबलेट का यूज़ 63 दिन की प्रेगनेंसी से कम की प्रेगनेंसी को गिराने के लिए किया जाता है। क्लीन किट टेबलेट लेने के कुछ घंटों बाद ही आपको ब्लीडिंग चालू हो जाती है । जिससे आप की प्रेगनेंसी गिर जाती है । क्लीन किट में दो तरह की दवाइयां होती है । एक mifepristone है और दूसरी misoprostol है जो कि अनचाहे गर्भ से छुटकारा देती है।

क्लीन किट क्या काम आती है? Clean kit tablet kya Kam aati hai

Clean kit tablet kya Kam aati hai : क्लीन किट प्रेगनेंसी को रोकने के काम आती है? क्लीन किट की दवा दो दवाओं के संयोजन से बनी होती है। जिसमें से एक दवा प्रोजेस्टेरोन हार्मोन के प्रभाव को खत्म करती है जो कि गर्भावस्था को बनाए रखता है और दूसरी दवा गर्भपात के लिए प्रेरक करती है । इसलिए क्लीन किट टेबलेट प्रेगनेंसी को खत्म करती है।

Clean-Kit Tablet इस्तेमाल होने वाली सामग्री

Clean ki tablet ingredient :vक्लीन किट टैबलेट एक गर्भपात करवाने की दवा है जिसका उपयोग प्रेगनेंसी टर्मिनेट करने के लिए किया जाता है । क्लीन किट टेबलेट भी अन्य गर्भनिरोधक दवाओं की तरह दो दवाओं के मिश्रण से बनी होती है। क्लीन किट की टेबलेट में इस्तेमाल होने वाली सामग्री ।

  1. mifepristone ( मिफेप्रिस्टोन )
  2. misoprostol ( मिसोप्रोस्टोल )

क्लीन किट कैसे लिया जाता है? Clean ki tablet kaise liya jata hai

Clean ki tablet kaise liya jata hai : क्लीन किट टेबलेट में 5 गोलियां होती है । जिसमें से एक गोली बड़ी होती है और चार गोली होती होती है। एक बड़ी गोली mifepristone होती है जो कि खाली पेट लेनी होती है और चार गोली misoprostol की होती है जो 24 से 48 घंटे के बाद लेनी होती है। इन चार गोलियों को मुंह के द्वारा लिया जा सकता है या फिर योनि में रख कर भी लिया जा सकता है। गोलियां लेने के कुछ घंटों बाद ही तेज दर्द के साथ ब्लीडिंग शुरू हो जाती है और यह ब्लीडिंग मासिक धर्म से ज्यादा होनी चाहिए। इस गर्भपात के साथ कुछ महीने तक पीरियड असामान्य हो जाते हैं।

ean-Kit Tablet का उपयोग किन लक्षणों में किया जाता है।

क्लीन किट टैबलेट गर्भ निरोधक दवा है यानी कि गर्भपात कराने की दवा है। इसलिए क्लीन किट टैबलेट का यूज़ प्रेगनेंसी के लक्षण में किया जाता है। यदि आप की प्रेगनेंसी एक अनचाही प्रेगनेंसी है और आप इसे गिराना चाहते हैं तो आप क्लीन किट टैबलेट का इस्तेमाल कर सकती हैं । हम आपको कुछ प्रेगनेंसी के लक्षण बता रहे हैं । जिन में आप क्लीन किट टेबलेट का इस्तेमाल कर सकती हैं ।

  1. जी मिचलाना
  2. बार बार पेशाब आना
  3. उल्टी होना
    4.चक्कर आना
  4. कमजोरी आना
  5. सिर दर्द होना

क्लीन किट टैबलेट कैसे यूज़ करें Clean ki tablet kaise use Karen

Clean ki tablet kaise use Karen : क्लीन किट टैबलेट एक गर्भनिरोधक टेबलेट है। जिसका इस्तेमाल अन्य गर्भनिरोधक दवाओं की तरह ही किया जाता है। जो कि गर्भपात कराने का कार्य करती है। क्लीन किट टैबलेट दो दवाओं के मिश्रण से बनी होती है ।

  1. mifepristone
  2. misoprostol

क्लीन किट टैबलेट का यूज़ 63 दिन से कम की प्रेगनेंसी को गिराने के लिए किया जाता है। क्लीन किट की टेबलेट का इस्तेमाल बहुत ही आसान है। क्लीन किट टेबलेट से गर्भपात करने के लिए सबसे पहले खाली पेट mifepristone टेबलेट ले ।
mifepristone टेबलेट लेने के 24 घंटे बाद misoprostol की 4 गोलियां लें। misoprostol की 4 गोलियां orally या वेजाइनली भी ली जा सकती है। दोनों दवाई लेने के कुछ घंटों बाद आपको ब्लीडिंग शुरू हो जाती है । जिससे आपकी प्रेगनेंसी टर्मिनेट हो जाती है।

Clean kit को उपयोग करने की विधि – Clean ki tablet ko upyog karne ki vidhi aur tarika

Clean ki tablet ko upyog karne ki vidhi aur tarika : क्लीन किट टेबलेट में अन्य गर्भनिरोधक दवाओं की तरह 5 गोलियां होती हैं जिनमें से एक बड़ी गोली होती है और चार छोटी गोली होती है। एक बड़ी गोली मीफेप्रिस्टोन (Mifepristone) और चार मिसोप्रोस्टॉल (Misoprostol) की होती है। गर्भपात करने के लिए सबसे पहले एक गोली Mifepristone खाली पेट लें । 24 से 48 घंटे के बाद Misoprostol की 4 गोलियां लें। Misoprostol की 4 गोलियां वैजाइना में भी रख सकते हैं। गोली रखने के कुछ घंटों बाद आपको तेज दर्द के साथ पीरियड शुरू हो जाता है।

Clean-Kit Tablet कैसे काम करती है Clean kit tablet kaise kaam karti hai

Clean kit tablet kaise kaam karti hai : क्लीन किट टेबलेट 63 दिन की प्रेगनेंसी को टर्मिनेट करने के काम आती है । क्लीन किट टेबलेट में दो तरह की दवाइयों का मिश्रण होता है। जिनमें से एक mifepristone है और दूसरी misoprostol है। mifepristone progesterone hormone के प्रभाव को कम करती है और progesterone hormone के level को बढ़ने से रोकती है। इसके अलावा misoprostol गर्भ गिराने का काम करती है। इन दवाओं का इस्तेमाल गर्भपात यानी कि pregnancy termination के लिए किया जाता है।

Clean-Kit टैबलेट के लाभ – benefits of using Clean-Kit tablet in hindi

क्लियर किट टेबलेट को बहुत सी परिस्थितियों में इस्तेमाल किया जा सकता है जिनमें से कुछ निम्न है

  1. अर्ली प्रेगनेंसी टर्मिनेशन
  2. ट्यूशन सिंड्रोम
  3. गैस्ट्रिक अल्सर
    4.मेडिकल अबॉर्शन में

मेडिकल अबॉर्शन में क्लियर किट टेबलेट का इस्तेमाल इंट्रायूट्रिन प्रेगनेंसी को खत्म करने के लिए किया जाता है। जहां 10 सप्ताह अथवा 63 दिनों तक इसका सेवन बहुत इफेक्टिव माना जाता है। यह महिलाओं में प्रोजेस्टेरोन हार्मोन को खत्म कर देता है। प्रोजेस्टेरोन हार्मोन का स्राव बंद होने से गर्भपात हो जाता है।

Clean-kit tablet Price in India

क्लीन किट टेबलेट एक गर्भनिरोधक दवा है जो की बहुत ही असरदार दवा मानी जाती है। क्लीन किट टेबलेट की शुरुआती प्राइस ₹500 है ।

गर्भपात की गोली खाने के बाद क्या क्या होगा? Garbhpat ki goli khane ke bad kya hoga

Garbhpat ki goli khane ke bad kya hoga : गर्भपात की गोली खाने के बाद जितने भी साइड इफेक्ट होंगे । वह अपने आप कुछ समय बाद ठीक हो जाते हैं । यदि आप फिर भी परेशान है तो डॉक्टर से एडवाइज ले सकते हैं। गर्भपात की गोली खाने के कुछ कॉमन साइड इफेक्ट

  1. उल्टी आना
    मतली आना
  2. डायरिया होना
  3. पेट में ऐठन होना
  4. भारी रक्त स्राव होना

इन सभी समस्याओं के अलावा चक्कर आना, थकान, कमजोरी, बैली पेन , स्टमक पेन, जैसे कुछ कॉमन साइड इफेक्ट है जो गर्भपात की दवा खाने से हो सकते हैं। गर्भपात की दवा खाने से आपको वेजाइनल ब्लीडिंग ज्यादा हो सकती है। जो कि मासिक धर्म से बहुत ज्यादा होगी । इसलिए घबराएं नहीं सेनेटरी पैड अपने साथ रखें ।आपको ज्यादा एक्सरसाइज नहीं करनी है, रनिंग और ड्राइविंग से भी बचना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से ब्लीडिंग और बढ़ सकती है।

Clean kit tablet के इस्तेमाल की सावधानियां Clean ki tablet ke istemal ke dauran kya kya savdhani rakhen

  1. Clean ki tablet ke istemal ke dauran kya kya savdhani rakhen : यदि कोई भी महिला क्लीन किट टेबलेट का इस्तेमाल करती है और उन्हें किसी भी प्रकार की कोई एलर्जी हो जाती है तो क्लीन किट टेबलेट लेना बंद कर दें या फिर अपने डॉक्टर की सलाह से लें।
  2. जो महिलाएं अपने बच्चों को ब्रेस्टफीडिंग करवाती हैं। वह महिलाएं ब्रेस्टफीडिंग के दौरान क्लीन किट टेबलेट को यूज में लेने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह लें।
  3. यदि आप पहले से ही किसी विटामिन की टेबलेट का यूज कर रहे हैं तो क्लीन किट टेबलेट लेने से पहले अपने डॉक्टर की एडवाइस जरूर ले।
  4. 35 वर्ष से अधिक उम्र की महिलाओं को क्लीन किट टेबलेट का यूज़ नहीं करना चाहिए।
  5. क्लीन किट टेबलेट 63 दिन से कम की प्रेगनेंसी को टर्मिनेट करने के लिए है। 63 दिन से ज्यादा की प्रेगनेंसी को टर्मिनेट करने के लिए क्लीन किट टेबलेट का इस्तेमाल ना करें।
  6. क्लीन किट टेबलेट का इस्तेमाल अल्कोहल के साथ ना करें।
  7. यदि आप किडनी और एनीमिया रोग से ग्रस्त हैं तो क्लीन किट टेबलेट का उपयोग ना करें।

Clean-Kit Tablet के साइड इफेक्ट्स Clean ki tablet ke side effect

  1. Clean ki tablet ke side effect : क्लीन किट टेबलेट प्रोजेस्टेरोन हार्मोन के उत्पादन को बिल्कुल बंद कर देती है ।जिस वजह से प्रेगनेंसी में प्रॉब्लम होने लग जाती है ।
  2. क्लीन किट टैबलेट यूज करने से आपको बहुत ज्यादा ब्लीडिंग की समस्या हो सकती है यह ब्लीडिंग 4 से 8 दिनों तक रेगुलर हो सकती है ।
  3. क्लीन किट टेबलेट के ज्यादा यूज से आपको चक्कर आने की समस्या उत्पन्न हो सकती है।
  4. क्लीन किट टेबलेट के साइड इफेक्ट में दस्त लगना भी शामिल है।
  5. क्लीन किट टेबलेट के ज्यादा उपयोग से शरीर में कमजोरी भी आ सकती है।
  6. क्लीन किट टेबलेट के साइड इफेक्ट में जी मिचलाना भी शामिल है।
  7. क्लीन किट टेबलेट के ज्यादा उपयोग से पसीना ज्यादा आने की समस्या हो सकती है।
  8. क्लीन किट टेबलेट से सर दर्द की समस्या भी हो सकती है।
  9. क्लीन किट टेबलेट के ज्यादा यूज से यौन संक्रमण भी हो सकता है।

क्लीन किट दवा खाने के बाद ब्लीडिंग नहीं हो तो क्या करें ? Clean kit dava khane ke bad bleeding Nahi to kya Karen

Clean kit dava khane ke bad bleeding Nahi to kya Karen : क्लीन किट में दो दवाइयां आती हैं।Mifepristone एक ही गोली होती है। Misoprosutol 4 गोलियों का मिश्रण होता है।Mifepristone का सेवन आपको खाली पेट करना चाहिए । इसके अलावा आपको ब्लीडिंग भी शुरू हो जाती है। इसके बाद आपको 24 से 48 घंटे के बाद Misoprosutol की 4 गोलियों का इस्तेमाल करना चाहिए । इन दवाइयों को खाने के 2 सप्ताह बाद आपको प्रेगनेंसी टेस्ट करना चाहिए ।अगर उस किट में आपको दो लाइन दिखाई देती हो तो आप समझ सकते हैं कि गर्भपात नहीं हुआ है । इसके अलावा यदि आपको एक लाइन दिखाई देती है तो आपका गर्भपात हो गया है । यदि आपको क्लीन किट दवा खाने के बाद भी ब्लीडिंग नहीं हुई है तो अपने डॉक्टर से जल्द से जल्द संपर्क करें।

गर्भपात की गोली क्लीन किट कब और कैसे लें ? Garbhpat ki goli clean kit kab aur kaise len

क्लीन किट टेबलेट में 2 दवाओं का मिश्रण होता है

  1. mifepristone
  2. misoprostol

Garbhpat ki goli clean kit kab aur kaise len . Clean ki tablet ke Sevan ki vidhi aur tarika : क्लीन किट टेबलेट की मिफेप्रिस्टोन की 200 मिलीग्राम वाली एक गोली और मिसोप्रोस्टोल की 200 माइक्रोग्राम वाली चार से आठ गोलियां लेनी होंगी । गर्भावस्था को समाप्त करने के लिए क्लीन किट के मिफेप्रिस्टोन और मिसोप्रोस्टोल को एक साथ कैसे लिया जाता है, उस बारे में बताया जा रहा है । मिफेप्रिस्टोन की 200 मिलीग्राम वाली एक गोली पानी के साथ निगल लें। 24 से 48 घंटे का wait करें। मिसोप्रोस्टोल की 200 माइक्रोग्राम वाली चार गोलियां अपनी जीभ के नीचे रखें ।

30 मिनट तक रखें ताकि वे घुल जाएं। आपको इन 30 मिनटों के लिए बोलना या कुछ खाना नहीं चाहिए । 30 मिनट के बाद, थोड़ा पानी पिएं। क्लीन किट की 4 मिसोप्रोस्टोल गोलियों का उपयोग करने के 3 घंटे के भीतर रक्तस्राव और ऐंठन शुरू हो जाना चाहिए। चार मिसोप्रोस्टोल की गोलियां लेने के 24 घंटे बाद, अगर आपको रक्तस्राव शुरू नहीं होता है,तो मिसोप्रोस्टोल की 4 और गोलियां अपनी जीभ के नीचे रखें। उन्हें 30 मिनट तक वहीं रखें, ताकि वे घुल जाएं 30 मिनट के बाद थोड़ा पानी पी ले ।

क्लीन किट टेबलेट खाने के कितने दिन बाद तक ब्लीडिंग चलेगी ? Clean ki tablet khane ke kitne din bad Tak bleeding hogi

Clean ki tablet khane ke kitne din bad Tak bleeding hogi : क्लीन किट में अन्य गर्भनिरोधक दवाओं की तरह नहीं एक बड़ी गोली और चार छोटी गोली होती हैं। जिनको orally या vaginal भी ले सकते हैं । इन दवाओं को लेने के कुछ घंटों बाद ही तेज दर्द के साथ ब्लीडिंग शुरू हो जाती है।

क्लीन किट टेबलेट से कितने दिनों की प्रेगनेंसी को गिराया जा सकता है ? Clean ki tablet se kitne dinon ki pregnancy ko giraya ja sakta hai

Clean ki tablet se kitne dinon ki pregnancy ko giraya ja sakta hai : क्लीन किट टेबलेट 63 दिन से कम की प्रेगनेंसी के लिए इस्तेमाल की जाती है। यदि किसी महिला की प्रेगनेंसी 65 दिन से कम है तभी क्लीन किट टेबलेट काम करती है और यदि किसी महिला की प्रेगनेंसी 63 दिन से ज्यादा है तो क्लीन किट टेबलेट काम नहीं करती है । 63 दिन से कम की प्रेगनेंसी को खत्म करने के लिए क्लीन किट टेबलेट का इस्तेमाल किया जाता है।

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments