प्रेगनेंसी कितने दिन में पता चलता है ? पीरियड मिस होने के कितने दिन बाद प्रेगनेंसी टेस्ट करे? pregnancy symptoms in hindi .

Maa बनना हर औरत के लिए एक बहुत ही खास एहसास hota है। हर महिला अपन जीवन में इस दौर से जरूर गुजरती है, जिसमें वह एक दूसरी Zindgai को जन्म देती है मां बनना सच में एक बहुत ही खुशी की बात होती है। प्रेगनेंसी कितने दिन में पता चलता है ? पीरियड मिस होने के कितने दिन बाद प्रेगनेंसी टेस्ट करे? pregnancy symptoms in hindi . pregnancy kitne din me pata chalta hai

लेकिन कई औरतें ऐसी होती है जो अपनी zindgai में यह सुख प्राप्त नहीं कर पाती और इस khushi को महसूस नहीं कर पाती हैं। ऐसी परेशानियों के लिए present time में तो कई सारे तरीके हैं जिनसे कोई भी महिला pregnant हो सकती है।

आज का हमारा article इसी topic के ऊपर है। आज के article में हम बात करेंगे pregnancy से related चीजों के बारे में। जैसे की pregnancy के symptoms क्या क्या होते हैं। Pregnancy पता कैसे चल सकता है। किस time pregnancy testकरना सबसे best रहता है।

तो चलिए शुरू करते हैं और सबसे पहले आपको यह बताते हैं कि pregnancy के symptoms क्या क्या होते हैं।

Pregnancy के कुछ basic symptoms जिनसे यह पता लगता है कि सर नैंसी है या नहीं वह है यह-

1-Periods मिस होना -Periods miss होना एक बहुत ही अहम लक्षण यानी symptom माना जाता है pregnancy का, अगर कोई भी महिला pregnant होती है तो regular periods miss हो जाते हैं।

2-जी मिचलाना और चक्कर आना – Pregnancy के symptoms में जी मचलना और चक्कर आना बहुत ही आम और ज्यादा देखे जाने वाले symptoms में से एक है।

3-हल्का रक्तस्त्राव- कई औरतों को प्रेगनेंसी के time पर हल्का सा रक्त स्त्राव यानी कि blood flow होता है इस से भी pregnancy का पता लगाया जा सकता है।

4-थकान feel होना – pregnancy के समय महिलाएं बहुत ही ज्यादा थकान महसूस करती हैं और कमजोरी feel करती हैं। इसीलिए थकान महसूस होना है Pregnancy का एक अहम symptom है।

5-Morning सिकनेस – morning sickness जैसे कि उल्टी आना, जी मचलना यह सभी भी Pregnancy के symptoms होते हैं मॉर्निंग सिकनेस इन सभी में सबसे common symptom है।

6-Breast और nipples में दर्द होना और nipples के colour में परिवर्तन – कई महिलाओं को प्रेगनेंसी के शुरुआती समय में breast या फिर nipples में दर्द होने लग जाता है और हल्का सा colour भी चेंज होने लग जाता है।

7-Mood बदलना -pregnancy के time पर mood swings होना बहुत ही ज्यादा देखने वाली चीज होती है। ज्यादातर महिलाओं को प्रेगनेंसी में mood swings की problem होती है।

8-Headache और सिर भारी होना – सर भारी होना और सर दर्द होना भी Pregnancy के लक्षण है।

9-बार बार toilet जाना- Pregnancy के समय बार बार toilet जाना यानी बार बार urine discharge होना भी बहुत ही आम होता है क्योंकि uterus बिल्कुल urine bladder के ऊपर ही होता है।

10-खाने की इच्छा में change – Pregnancy के समय कई महिलाओं को अलग-अलग चीजें खाने की cravings यानी की इच्छा होती है।

11-पाचन सम्बन्धी समस्याएं या कब्ज की problem- प्रेगनेंसी के time पर कब्ज़ यानी constipation की प्रॉब्लम भी बहुत ही आम होती है।

प्रेगनेंसी कितने दिन में पता चलता है ?

अब आपको बताते हैं pregnancy का पता कितने दिनों में चलता है? कितने दिनों में pregnancy के बारे में पता चल सकता है? प्रेगनेंसी के टाइम पर कितने दिनों के बाद पता चलता है? कितने timeके बाद प्रेगनेंसी का पता चलता है?

जब पहली pregnancy होती है तो ज्यादातर महिलाओं के सामने sabse पहला और बड़ा sawal होता है कि period न आने के कितने din बाद test किया जाए।

यह चीज उन महिलाओ के लिए है जो इस चीज़ को लेके sure नहीं होती की प्रेगनेंसी का test कितने समय के बाद में कर सकती हैं।

इसके लिए प्रेगनेंसी के बारे में पूरी जानकारी होना बहुत ही जरूरी है, साफ तौर पर pregnancy का पता तब ही लगाया जा सकता है जब महिला के khoon में HCG hormone का स्राव होने लगे। ज्यादातर महिलाओं में इस process को complete होने में 6 से 7 din लग जाते हैं I

इन छह सात दिनों के बाद अगर Pregnancy test किया जाए तो आसानी से पता चल सकता है कि आप pregnant है या नहीं। अगर बात की जाए प्रेगनेंसी test को करने की तो यह बहुत ही आसान होता है Pregnancy test आसानी से कोई भी महिला अपने ghar पर कर सकती हैं।

प्रेगनेंसी टेस्ट –

हम आपको बताते हैं pregnancy test कैसे कर सकते हैं? किन-किन तरीकों से Pregnancy टेस्ट किया जा सकता है? प्रेगनेंसी test कैसे किया जा सकता है? Pregnancy test कैसे करते हैं? किस तरीके से प्रेगनेंसी का test किया जा सकता है? Pregnancy का पता कैसे लगा सकते हैं?

Pregnancy का पता लगाने के लिए आमतौर पर तुरंत सभी महिलाएं ghar पर ही Pregnancy kit लेकर test करती है। यह बहुत ही आसान और affordable होता है, जो कोई भी महिला easily कर सकती है। इसीलिए ज्यादातर महिलाएं Pregnancy test kit से प्रेगनेंसी test करती हैं।

परंतु इसके अलावा भी और कई सारे तरीके हैं जिनसे Pregnancy के बारे में पता लगाया जा सकता है। परंतु यह सभी तरीके प्रेगनेंसी को 100% sure result नहीं बताते है। इसलिए 100% sure results जानने के लिए Pregnancy test या doctor से consult करना ही best रहता है।

यह है कुछ gharelu तरीके जिनसे या Pregnancy का test कर सकते हैं।

1- विनेगर : Vinegar में toilet मिलाकर यह test किया जाता है। Vinegar में toilet मिलाने के baad अगर colour में change नजर आता है तो हो सकता है कि आप pregnant nahi हों।

2- कांच के ग्लास : अगर aap pregnant हैं तो कांच के glass में urine डालने से कुछ देर baad इसपर white परत दिखाई देगी। Agar ऐसा होता है तो आप pregnant हो sakti हैं।

3- ब्लीच का प्रयोग : किसी बर्तन में थोड़ी bleach लें और इसमें toilet मिला दें। इसके baad अगर इसमें bul-bule दिखाई देते हैं तो आपके pregnant होने का chance हो सकता है।

4- Sugar से Test : Sugar का use करके भी pregnancy का पता lagaya जा सकता है। किसी बर्तन में sugar लेकर इसमें थोड़ी toilet मिलाएं।
अगर sugar आपस में chipak जाती है तो pregnancy के symptoms हो सकते हैं। अगर sugar mix ho जाती है तो aap pregnant नहीं हैं।

5- Soap टेस्ट : Soap में urine mix karne पर अगर bul-bule बनते हैं तो pregnancy test positive हो सकता है।

6- Dettol test : Dettol test करने के लिए किसी glass के बर्तन में equal मात्रा में urine और Dettol मिला लें। अगर Dettol और urine mix ho जाता है तो आप pregnant नहीं हैं लेकिन यदि urine ऊपर परत बना लेता है और तैरने लगता है तो हो सकता है आप pregnant हों।

गर्भपात के कितने दिन बाद प्रेगनेंसी टेस्ट करना चाहिए ?

अब आपको बताते हैं ghar पर कितने दिनों के बाद pregnancy test करना चाहिए? गर्भपात यानी pregnancy termination के कितने दिनों के बाद pregnancy test करके प्रेगनेंसी का पता लगा सकते हैं? गर्भपात के बाद pregnancy का पता लगाने के लिए कितने दिनों pregnancy test कर सकते हैं?

प्रेगनेंसी टेस्ट से pregnancy का पता लगाने के लिए कम से कम छह-सात दिनों के बाद test करना चाहिए क्योंकि इस समय तक महिलाओं के खून में HCG hormone की मात्रा बढ़ जाती है। जिसके द्वारा यह पता लगाया जाता है कि pregnancy है या नहीं है।

ज्यादातर महिलाओं में इस process को पूरा होने में 6 से 7 din लग जाते हैं। वहीं expert यह भी सलाह देते हैं कि अगर आपके periods अबतक regular रहे हैं, तो cycle miss होने के ठीक अगले din भी आप test करवा सकते हैं।

इससे आप आसान और कम time consuming तरीके से अपनी Pregnancy को test कर सकते हैं।

प्रेगनेंसी कितने दिन में पता चलती है ?

अब आपको बताते हैं प्रेगनेंसी कितने दिन में पता चलती है? कितने दिनों में प्रेगनेंसी का पता चलता है? प्रेगनेंसी का पता कितने दिनों में लगता है? कितने दिनों में प्रेगनेंसी पता चलती है? प्रेगनेंसी का पता लगने में कितने दिन लगते हैं? कितने दिनों के टाइम में प्रेगनेंसी का पता लगाया जा सकता है?

जैसा कि हमने आपको पर बताया प्रेगनेंसी का पता blood में HCG hormone की level को चेक करके किया जाता है। HCG hormone की लेवल चेक करने के लिए 6 – 7 दिनों के बाद Pregnancy test करना चाहिए।

इस तरीके से आप आसानी से अपनी Pregnancy के पता लगा सकते हैं।

पीरियड मिस होने के कितने दिन बाद प्रेगनेंसी टेस्ट करे?

अब आपको बताते हैं period miss होने के कितने दिनों के बाद प्रेगनेंसी test करना चाहिए? अगर पीरियड miss हो जाते हैं तो कितने दिनों के बाद Pregnancy test करना सही रहता है? Period miss होने के कितने दिनों के बाद pregnancy test करके प्रेगनेंसी confirm कर सकते हैं?

Periods miss होने का सबसे ज्यादा माने जाने वाला कारण होता है प्रेगनेंसी। कई बार periods miss किसी और वजह से भी हो सकते हैं परंतु ज्यादातर यह चीज Pregnancy की वजह से ही होती है।

Period miss होने पर ज्यादातर महिलाएं अपनी pregnancy test का ghar पर ही करना उचित समझती है इसके लिए ज्यादातर Pregnancy kit का इस्तेमाल किया जाता है जिनके द्वारा आसान तरीके से यह पता लगाया जा सकता है कि Pregnancy है या नहीं है।

Home pregnancy test का result लगभग सही आता है जब इसे period miss होने के पहले din और उसके बाद किया जाए। अगर ghar में kit से test करने पर negative result आता है, तो 72 घंटे या teen दिन के बाद, दोबारा test जरूर करें।

क्योंकि कई बार कुछ कारणों से result गलत भी हो सकते हैं इसीलिए कम से कम दो test कर लेने चाहिए ताकि प्रेगनेंसी को लेकर आपको results confirm हो जाए और किसी तरह का कोई doubt ना रहे।

pregnancy test kitne din me karna chahiye in hindi

अब आपको बताते हैं pregnancy test कितने दिनों में करना चाहिए? कितने दिनों में pregnancy ka test करना चाहिए? प्रेगनेंसी का पता लगाने के लिए test कितने दिनों में करना चाहिए? कितने दिनों में pregnancy ka test करके pregnancy का पता लगाना चाहिए?

अगर आपको अपनी pregnancy confirm करनी है या आपको भी प्रेगनेंसी से रिलेटेड कोई डाउट है तो इसके लिए आपको Periods miss hone होने के एक week बाद karna chaye

doctors के according जब महिला अपने period तय समय पर miss कर जाए उसके एक हफ्ते बाद pregnancy kit किया जाना चाहिए। क्योंकि इस टाइम तक महिलाओं के blood में एचसीजी hormone की level बढ़ जाती है।

इस समय तक body में HCG की इतनी मात्रा होती है कि उसे urineके through किए जाने वाले test से जांचा जा सकता है।

Pregnancy test करने के लिए सबसे best time होता है अबके period miss होने के 1 week का time. क्योंकि जैसा कि हमने आपको बताया उस time तक blood में अच्छी जी की मात्रा बढ़ जाती है जिसके द्वारा आसानी से urine test के through प्रेगनेंसी का पता लगाया जा सकता है।

अनवांटेड किट खाने के बाद कितने दिन बाद पीरियड आता है ?

अब आपको बताते हैं unwanted kit खाने के कितने दिनों के बाद पीरियड जाते है? unwanted kit यानी गर्भपात की गोली खाने के कितने दिनों के बाद period रेगुलर आने लग जाते हैं? Unwanted kit खाने के कितने दिनों के बाद period शुरू होते हैं?

Unwanted kit जो है उसका इस्तेमाल गर्भपात के लिए किया जाता है यह एक ऐसी गोली है जिसे गर्भ गिराने के लिए use किया जाता है ज्यादा यूज होने वाली कॉन्ट्रासेप्टिव pill में से यह एक है I

अनवांटेड kit को use terminate करने के लिए किया जाता है। यह pregnancy को treatment करने का एक बहुत ही आसान तरीका है। यह surgical method से बहुत ही कम painful होता है। इसी वजह से ज़्यादातर महिलाएं इसी तरीके से अपनी pregnancy terminate करना पसंद करती हैं।

अगर unwanted kit से pregnancy terminate की जाए तो Unwanted kit लेने के बाद में bleeding 7 से 10 दिन के अंदर normal हो जाती है । 7 दिनों तक bleeding normal ho जाती है ।

pregnancy kitne din me pata chalta hai .

आपको बताते हैं pregnancy कितने din में पता चलती है? pregnancy का पता कितने दिन में चलता है? कितने दिनों के अंदर pregnancy का पता चल जाता है? pregnancy का पता कितने dino के अंदर चलता है? कितने में pregnancy का पता चल जाता है?

साफ तौर पर pregnancy का pata तब ही लगाया जा सकता है जब महिला के blood में HCG hormone का स्राव होने लगे। Mostly महिलाओं में इस process को पूरा होने में 6 से 7 दिन लग जाते हैं।

वहीं expert यह भी advise देते हैं कि अगर aapko period अबतक regular रहे हैं, तो cycle miss होने के ठीक अगले दिन भी aap test करवा सकते हैं।

pregnency test kb kre .

अब आपको बताते हैं pregnancy test कब करना चाहिए? प्रेगनेंसी टेस्ट कब करना सही रहता है?किस time pregnancy test करना अच्छा रहता है? Pregnancy test करने के लिए कौन सा समय सही रहता है? प्रेगनेंसी test कब करना चाहिए?

आमतौर पर periods miss होने के एक week बाद आप pregnancy kit से गर्भधारण का पता लगा सकती हैं। प्रेगनेंसी किट बनाने वाली कुछ companies का दावा है कि आप निर्धारित date पर period ना आने के एक या do din बाद भी उनकी kit से pregnancy की test कर सकती हैं।

गर्भ ठहरने के कितने दिन बाद पता चलता है –

अब आपको बताते हैं गर्भ ठहरने के कितने दिनों के बाद पता चलता है? कितने dino के बाद गर्भ ठहरने का पता चलता है? गर्भ ठहरने पर कितने दिनों के बाद पता chalta है? अगर garbh ठहर जाता है तो कितने dino के बाद उसका पता चलता है?

अलग-अलग महिलाओं मे pregnancy को लेकर Symptoms अलग होते हैं। कई महिलाओं को प्रेगनेंसी के शुरुआती समय में ही अपनी pregnancy का पता चल जाता है यानी कि garbh ठहरने का पता चल जाता है वहीं कई महिलाओं को अपने garbh ठहरने का पता काफी लंबे time तक नहीं चल पाता है।

Pehle ऐसा माना जाता था कि masik dharm start होने के एक हफ्ता पहले और खत्म होने के एक week बाद के 7-7 दिन safe period हैं। बीच के दो हफ्तों में ही गर्भ ठहरने की chances ज्यादा मानी जाती थी।

गर्भ ठहरने के 6 से 7 दिनों के बाद उसका पता चल सकता है क्योंकि उस समय तक blood के अंदर HCG hormone की मात्रा बढ़ जाती है। जिसके कारण आसानी से garbh का पता लग सकता है।

Unwanted kit bleeding time .

अब आपको बता unwanted kit के use करने के कितने टाइम बाद ब्लीडिंग शुरू होती है? अनवांटेड किट का bleeding time क्या है? अनवांटेड किट यूज करने के कितने time बाद bleeding होती है?

जैसा कि हमने आपको पर ब का use pregnancy termination के लिए किया जाता है। इसके use से आसानी से pregnancy terminate की जा सकती है।

unwanted kit के use से सीटेट जो है वह पीरियड्स के थ्रू ही dispose होता है इस तरीके से pregnancy termination करने पर excessive bleeding और body pain सबसे ज्यादा होता है।

आमतौर पर unwanted kit use करने के 3 से 4 दिनों के अंदर termination process शुरू हो जाती है इस दवा को खाने के 3 से 4 दिनों के अंदर foetus destroy हो जाता है और वह blood के through dispose हो जाता है I

pregnancy pro –

अब aapko बताते हैं होम pregnancy test kit से प्रेगनेंसी टेस्ट कितने sure होते हैं? home pregnancy test किसके द्वारा किए गए test कितने सही होते हैं? अगर pregnancy test घर पर किया जाए तो वह कितने sure होते हैं?

ज्यादातर घर पर किए गए pregnancy test kit के द्वारा pregnancy test 100 % sure नहीं होते क्योंकि कई बार test की timing की वजह से gadbad हो जाती है।

अगर आप home pregnancy test kit का result एकदम sure चाहते हैं तो Home pregnancy test का result तभी 99 percent सही आता है जब इसे period miss होने के पहले दिन और उसके baad किया जाए।

Pregnancy test करने का sabse सही समय suabh का होता है क्‍योंंकि इस समय toilet की मात्रा अधिक होती है। अगर आप मासिक चक्र में बहुत jaldi test कर लेती हैं तो इसका result सही नहीं आ sakta है।

इस चीज का खासतौर पर ध्यान रखें कि अगर pregnancy test kit के द्वारा test किया जाए तो confirmation के लिए कम से कम 2 बार प्रेगनेंसी test kit के द्वारा test कर ले I

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments