वाष्पीकरण किसे कहते हैं गुप्त ऊष्मा किसे कहते हैं ? उर्ध्वपातन क्या होता है? संघनन किसे कहते हैं ?vashikaran kise kahate hain . vaporisation in hindi .

वाष्पीकरण किसे कहते हैं गुप्त ऊष्मा किसे कहते हैं ? उर्ध्वपातन क्या होता है? संघनन किसे कहते हैं ?vashikaran kise kahate hain . vaporisation in hindi .

वाष्पीकरण अर्थात vaporisation किसे कहते हैं ? यदि मैं आपसे पूछूं कि vashikaran se aap kya samajhte hain . आपकी नजर में what is vaporization . वाष्पीकरण और vaporization की परिभाषा के बारे में विस्तार से जानते हैं ।

वाष्पीकरण की प्रक्रिया का अध्ययन रसायन विज्ञान में किया जाता है । रसायन विज्ञान में रसायनों के भौतिक , रासायनिक गुणधर्म , तापमान द्रव्यमान , ग्लनांक , क्वथनाक , रासायनिक परिवर्तन आदि का अध्ययन किया जाता है ।

वाष्पीकरण का मतलब किसी भी पदार्थ का वाष्प के रूप में परिवर्तित हो जाना अर्थात भाप या वाष्प के रूप में परिवर्तित होना । अब तो आप समझ गए होंगे की वाष्पीकरण में कोई भी पदार्थ वाष्प बन जाता है या भाप बन जाता है ।

वाष्पीकरण ( vaporisation ) की परिभाषा बताइए ? vashikaran kise kahate hain . what is vaporization

परिभाषा – किसी भी द्रव पदार्थ का गैस अवस्था में परिवर्तित होना ही वाष्पीकरण कहलाता है । वास्तव में वाष्पीकरण द्रव्य का ही होता है । जब कोई तरल पदार्थ वाष्प अवस्था से गैसीय अवस्था में परिवर्तित हो जाता है तो इस पूरी प्रक्रिया को वाष्पीकरण कहते हैं । अब तो आप समझ ही गए होंगे कि वाष्पीकरण किसे कहते हैं।

उदाहरण – पानी का भाप बनना वाष्पीकरण प्रक्रिया के अंतर्गत आता है । जब हम पानी को गर्म करते हैं तब पानी बोइलिंग प्वाइंट ( boiling point ) पर आकर के उबलने लगता है और भाप बनने लगता है । जब पानी भाप बनने लगता है तब गैसीय अवस्था में आ जाता है इसी अवस्था को वाष्पीकरण अवस्था कहते हैं ।

पानी को गर्म करने पर पानी के तापमान में परिवर्तन होता है । जब पानी के तापमान में परिवर्तन ज्यादा हो जाता है तब पानी द्रव्य व्यवस्था से गैसीय अवस्था में परिवर्तित होने लगता है इसे ही वाष्पीकरण कहते हैं अर्थात पानी वाष्प बनने लगता है।

वाष्पीकरण कितने प्रकार का होता है ?

चलिए अब जानते हैं कि वाष्पीकरण कितने प्रकार से हो सकता है । वाष्पीकरण मुख्य रूप से दो प्रकार से होता है । वाष्पीकरण का पहला प्रकार वाष्पन होता है तथा वाष्पीकरण का दूसरा प्रकार क्वथन होता है । वाष्पन और क्वथन वाष्पीकरण के दो प्रकार हैं।

वाष्पन किसे कहते हैं? वाष्पन की परिभाषा बताइए? evaporation in hindi .

वाष्पन की परिभाषा – क्वथनांक से कम तापमान पर यदि कोई गैसीय अवस्था में परिवर्तित होता है तो इस प्रक्रिया को वाष्पन कहते हैं । वाष्पन की प्रक्रिया में द्रव के ऊपरी सतह के कण गैसीय अवस्था में परिवर्तित होते हैं । evaporation का अर्थ और मतलब वाष्पन होता है

evaporation meaning in hindi . meaning of evaporation in hindi

evaporation का मतलब हिंदी में भाप बनकर के उड़ जाना होता है । वाष्पीकरण और वाष्पन की प्रक्रिया में भी ऐसा ही होता है । वाष्पीकरण और वाष्पन की प्रक्रिया में जब किसी द्रव्य को गर्म किया जाता है तब वह भाप बनकर उड़ जाता है । इसी पूरी प्रक्रिया को वाष्पीकरण कहा जाता है । वाष्पन में द्रव्य की ऊपरी सतह के कणों का वाष्पन होता है। जबकि क्वथन में पूरे द्रव्य में से किसी भी कण का वाष्पीकरण हो सकता है । evaporation means in hindi . hindi meaning of evaporation .

क्वथन की परिभाषा बताइए? क्वथन किसे कहते हैं?

क्वथन की परिभाषा – भौतिक प्रक्रिया के माध्यम से किसी भी द्रव्य को उसके क्वथनांक तक गर्म करके गैसीय अवस्था में परिवर्तित करना ही क्वथनांक कहलाता है । क्वथन में द्रव्य को उसके क्वथनांक अवस्था तक गर्म किया जाता है ताकि वह गैसीय अवस्था में परिवर्तित हो जाए ।

अभी तक हमने वाष्पीकरण की पूरी प्रक्रिया को समझा । वाष्पीकरण किसे कहते हैं परिभाषा को उदाहरण के द्वारा समझाया । इसके साथ ही हमने आपको क्वथन और वाष्पन की प्रक्रिया को भी समझाया ।

vashikaran se aap kya samajhte hain . वाष्पीकरण से आप क्या समझते हैं ?

वाष्पीकरण से हम यह समझते हैं कि कोई भी द्रव्य पदार्थ द्रव्य अवस्था से परिवर्तित होकर के वाष्प अवस्था में अर्थात गैसीय अवस्था में चला जाता है । वाष्पीकरण की दर अलग-अलग कारकों पर निर्भर करती है । वाष्पीकरण की दर तापमान क्षेत्रफल और वातावरण पर भी निर्भर करती है ।

गुप्त ऊष्मा किसे कहते हैं ? गुप्त ऊष्मा की परिभाषा बताइए ?

गुप्त ऊष्मा की परिभाषा – गुप्त ऊष्मा वह ऊष्मा होती है जब किसी पदार्थ को कोई ऊष्मा दी जाती है तब वह उस पदार्थ के तापमान को स्थिर रखते हुए उसकी अवस्था में परिवर्तन कर देती है इसे ही गुप्त ऊष्मा कहते हैं ।

उदाहरण – बर्फ का पिघलना गुप्त ऊष्मा का ही उदाहरण है । गुप्त ऊष्मा किसी भी पदार्थ के तापमान में कोई परिवर्तन नहीं करती है बल्कि उसकी अवस्था में परिवर्तन करती है । अब बर्फ के ही उदाहरण को ले लीजिए ।

जब हम बर्फ को गर्म करते हैं तब बर्फ ठोस अवस्था से द्रव्य व्यवस्था में बदल जाती है । लेकिन बर्फ के तापमान में कोई भी परिवर्तन तब तक नहीं आता है जब तक वह ठोस अवस्था से द्रव्य व्यवस्था में नहीं आ जाती है । जब बर्फ पूरी तरीके से ठोस अवस्था से द्रव अवस्था में आ जाती है तब बर्फ की तापमान में परिवर्तन होने लगता है । बर्फ को ठोस अवस्था से द्रव्य व्यवस्था में लाने के लिए जो ऊष्मा दी जाती है वह ऊष्मा ही गुप्त ऊष्मा कहलाती है ।

उर्ध्वपातन क्या होता है? » Udharvapalan Kya Hota Hai . udhar patan kya hai .

उर्ध्वपातन की परिभाषा – उर्ध्वपातन (sublimation) वह प्रक्रिया होती है जिसमें कोई भी पदार्थ ठोस अवस्था से सीधे ही गैसीय अवस्था में परिवर्तित हो जाता है । पदार्थों के इस गुण को ही उर्ध्वपातन कहा जाता है । उर्ध्वपातन की अवस्था में कोई भी पदार्थ द्रव व्यवस्था में नहीं जाता है ।

उदाहरण – कपूर में उर्ध्वपातन का गुण होता है । क्योंकि कपूर ठोस अवस्था से सीधे गैसीय अवस्था में परिवर्तित हो जाता है जो कि कपूर का उर्ध्वपातन का गुण होता है । नौसादर में भी उर्ध्वपातन का गुण पाया जाता है ।

sanghanan abhikriya . संघनन किसे कहते हैं ? संघनन की परिभाषा बताइए ?

संघनन की परिभाषा : जब कोई पदार्थ गैस अवस्था से द्रव्य में वस्था में परिवर्तित होता है तो इस घटना को संघनन कहते हैं । संगठन वाष्पन की प्रक्रिया के विपरीत घटना होती है । संघनन की प्रक्रिया को एक उदाहरण के द्वारा समझते हैं ।
उदाहरण – वर्षा का होना संघनन प्रक्रिया का ही उदाहरण है । क्योंकि आकाश में पानी वाष्प और गैसीय अवस्था में बादल के रूप में मौजूद होता है और जब संघनन की अभिक्रिया होती है तब पानी गैसीय अवस्था से द्रव अवस्था में परिवर्तित होता है और बारिश की बूंदों के रूप में पृथ्वी पर गिरता है।