वायु कितने प्रकार की होती है । वायु के प्रकार बताइए

वायु कितने प्रकार की होती है । वायु के प्रकार बताइए

आज तक आपने यही सुना होगा कि हमारे आसपास जो हवा होती है उसे हम वायु भी कहते हैं । लेकिन क्या आपको पता है कि वायु के भी प्रकार होते हैं । वायु भी अलग-अलग प्रकार की होती है ।

इन सब चीजों का वर्णन हमारे शास्त्रों में पुराणों में तथा वेदों में मिलता है । वेदों में बताया गया है कि वायु अलग-अलग प्रकार की होती है तथा वायु के अलग-अलग प्रकार तथा अनेकों कार्य होते हैं ।

प्रत्येक प्रकार की वायु का एक अपना कार्य होता है और उस वायु का 1 नाम होता है । आज हम उन्हीं के बारे में जानेंगे ।

वायु के प्रकारों के बारे में वायु के देवता पवन देव ने उस समय बताया , जब वह मारुति को उड़ने की शिक्षा दे रहे थे । पवन देव ने बताया कि वायु के 49 मारुत गण होते हैं जो कि इन वायु को संचालित करते हैं ।

हमारे शास्त्रों में कुल मिलाकर के 49 तरीके की वायु के बारे में बताया गया है । उनमें से आज हम वायु के कुछ तरीके तथा नाम के बारे में जानेंगे ।

प्रत्येक वायु का अपना एक मारुत गण होता है और यह अपना अपना काम करते रहते हैं । कुल मिलाकर के 49 मारुत गण तथा 49 प्रकार की वायु होती है ।

वायु को संचालित तथा नियंत्रित करने का कार्य मारुत का ही होता है । यही वायु को संचालित तथा नियंत्रित करते हैं ।

प्राण वायु किसे कहते हैं ?

वायु के अनेक कार्य होते हैं । उनमें से एक कार्य होता है सभी को जीवन प्रदान करना । जो कि हम ऑक्सीजन के रूप में लेते हैं । जिसे हम प्राणवायु भी कहते हैं ।

प्राणवायु हमें जीवन प्रदान करती है और यह वायु हमारे जीने के लिए जरूरी होती है । जिसे हम ऑक्सीजन कहते हैं ।

अपान वायु किसे कहते हैं ?

श्वास लेने के बाद में जो हम वायु बाहर की तरफ छोड़ते हैं उसे अपान वायु कहा जाता है । विज्ञान की भाषा में हम इसे कार्बन डाइऑक्साइड गैस भी कहते हैं । शास्त्रों की भाषा में इस वायु को अपान वायु कहा जाता है ।

संभाव वायु किसे कहते हैं ?

समुद्र से जल को शोक करके धरती पर वर्षा करने वाली वायु को समभाव वायु कहते हैं । संभाव वायु के कारण ही धरती पर वर्षा होती है ।

संचारित वायु किसे कहते हैं ?

जो वायु आकाश में संचारित होती है तथा आकाश में चलती रहती है उसे संचारित वायु कहते हैं ।

झांझा वायु किसे कहते हैं ?

जब बहुत तेज हवा चलती है और आंधी आती है तब मिट्टी तथा अन्य चीजें उड़ने लगती है । उस वायु को झांझा वायु कहते हैं ।

आवाह वायु किसे कहते हैं ?

जो वायु जल के भीतर होती है । यानी कि समुद्र तथा पानी के भीतर में जो वायु होती है । उस वायु को आवाह वायु कहते हैं । पानी में जो वायु या ऑक्सीजन खुली हुई होती है । उसी को आवाह वायु कहते हैं ।

परीवह वायु किसे कहते हैं ?

जो वायु बीजों को एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाने का काम करती है । यानी कि जो पेड़ पौधों के बीज होते हैं । उनको एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाने का काम करती है । उस वायु को परीवह वायु कहते हैं ।